July 25, 2024

TNC Live TV

No.1 News Channel Of UP

Kanpur: कार ने युवक को 50 मीटर तक घसीटा, दर्दनाक मौत, ग्रामीणों ने शव रख पांच घंटे बंद रखा जीटी रोड

कानपुर के बिठूर में रविवार देर शाम मंधना की ओर से आ रही कार जीटी रोड पार कर रहे युवक को टक्कर मारने के बाद करीब 50 मीटर तक घसीटते चली गई। ग्रामीणों के शोर मचाने पर चालक ने कार रोकी, लेकिन तब तक युवक की मौत हो चुकी थी। इससे नाराज ग्रामीणों ने चालक को पीटने के बाद तीन कारों में तोड़फोड़ कर दी। शव रोड पर रखकर जाम लगा दिया। 50 लाख रुपये मुआवजे की मांग करते हुए रात 12 बजे तक रोड पर ही बैठे रहे।

बिठूर के होरा कछार गांव निवासी रामसजीवन राजपूत का बेटा अजय राजपूत (27) मजदूरी करता था। रोज की तरह रविवार को भी मजदूरी करके घर लौट रहा था। शाम करीब साढ़े सात बजे सवारी वाहन से उतरने के बाद जीटी रोड पार करने लगा। इसी दौरान उत्तराखंड नंबर की एक अर्टिगा कार ने उसे टक्कर मार दी। इससे वह सड़क पर गिरा और कार के पहियों में फंसकर घिसटता चला गया। ग्रामीणों के शोर मचाने पर चालक ने ब्रेक लगाया, तो पीछे आ रही दो और कारें अर्टिगा से जा भिड़ीं। ग्रामीणों ने पहियों के बीच फंसे अजय को बाहर निकाला, लेकिन उसकी मौत हो चुकी थी।

 

इससे नाराज ग्रामीणों और मृतक के परिजनों ने तीनों कारों में तोड़फोड़ कर दी। जीटी रोड पर पत्थर, पेड़ की डालियां और डायवर्जन के बोर्ड व शव रखकर जाम लगा दिया। चालक पर कार्रवाई, मृतक आश्रितों को मुआवजा और हाईवे पर गांव जाने के लिए कट बनाने की मांग रखी। सूचना पर एसीपी कल्याणपुर अभिषेक कुमार कल्याणपुर और बिल्हौर सर्किल के थानों की फोर्स लेकर पहुंचे। समझाने के दौरान ग्रामीणों और पुलिस में नोकझोंक भी हुई। तहसीलदार रितेश सिंह ने भी समझाने का प्रयास किया, लेकिन गांव वाले माने नहीं और सड़क पर जाम लगाए बैठे रहे।

जाम को देखते हुए ट्रैफिक किया गया डायवर्ट
जीटी रोड पर जाम लगने की वजह से पुलिस ने ट्रैफिक डायवर्ट करने का फैसला लिया। कल्याणपुर से मंधना और मंधना से कल्याणपुर की ओर आने-जाने वाले वाहनों को कल्याणपुर-बिठूर वाया गंगा बैराज से मंधना हाईवे होकर गुजारा गया। इसके बाद भी होरा कछार गांव के आसपास जाम की स्थिति बनी रही।

जीटी रोड पर 700 मीटर में नहीं रोशनी के इंतजाम

मंधना क्रासिंग से होरा कछार गांव के बीच की दूरी करीब सात सौ मीटर है। ग्रामीणों का कहना है कि इस मार्ग पर रोशनी की व्यवस्था नहीं है। अंधेरा होने की वजह से भी हादसे का खतरा रहता है। ग्रामीणों ने इस मार्ग पर रोशनी की व्यवस्था किए जाने की भी मांग उठाई है।

हाईवे पर कट न होने से भी नाराजगी
ग्रामीणों ने बताया कि कल्याणपुर-मंधना हाईवे के किनारे 12 से ज्यादा गांव हैं। ग्रामीणों को जीटी रोड पार करने के बाद ही सवारी वाहन मिलता है। हाईवे का निर्माण कराने वाली संस्था पीएनजी ने काफी दूर तक कट नहीं दिए हैं। लोग दौड़कर हाईवे पार करते हैं और हादसे का शिकार हो जाते हैं।

About The Author

error: Content is protected !!