July 25, 2024

TNC Live TV

No.1 News Channel Of UP

सुनीता हत्याकांड: खुलासे के बेहद नजदीक पुलिस, कातिल को थी घर की पूरी जानकारी, विकास जाटव की तलाश तेज

मेरठ के ब्रह्मपुरी के इंदिरानगर में सुनीता मिश्रा की हत्या में पुलिस कई एंगल पर जांच में जुटी है। कातिल के बारे में पुलिस को अभी तक कोई अहम सुराग हाथ नहीं लगा है। लेकिन जिस तरह से वारदात हुई है, उससे एक बात साफ हो गई है कि कातिल का मकसद सुनीता की हत्या करना ही था।
Sunita murder case Meerut: Police is close to find the murderer, search for Vikas Jatav intensified

 

कातिल को घर के बारे में पूरी जानकारी थी। कहां पर रिवाल्वर रखी है, कहां पर डीवीआर है। इस सबकी उसको पूरी जानकारी थी। इससे साफ है कि कातिल पहली बार घर में नहीं आया था, उसका पहले से आना जाना था। इन तमाम सवालों के जवाब पुलिस को सुनीता मिश्रा के पति राधेश्याम मिश्रा दे सकते हैं, लेकिन वे अभी अपने पैतृक गांव में ही हैं। ऐसे में पुलिस अब तक सिर्फ सीसीटीवी के जरिए ही कातिल तक पहुंचने का प्रयास कर रही है।
Sunita murder case Meerut: Police is close to find the murderer, search for Vikas Jatav intensified

 

मूलरूप से सुलतानपुर जिले के अमाऊ जासरपुर गांव निवासी राधेश्याम मिश्रा ब्रह्मपुरी के इंदिरानगर की गली नंबर दो में रहते हैं। राधेश्याम बागपत रोड स्थित कैलाश अस्पताल में ओटी टेक्नीशियन हैं। शुक्रवार रात को राधेश्याम की पत्नी सुनीता मिश्रा घर पर थीं। पति अस्पताल में ड्यूटी पर थे।

Sunita murder case Meerut: Police is close to find the murderer, search for Vikas Jatav intensified

 

शनिवार सुबह राधेश्याम घर पहुंचे तो सुनीता का शव नीचे पड़ा हुआ था। उनके कनपटी पर दाएं तरफ गोली लगी थी। राधेश्याम की लाइसेंसी रिवाल्वर सुनीता के हाथ में रखी हुई थी। सिर पर भी चोट का निशान था। घर से बुलेट बाइक गायब थी। बुलेट को कातिल कुछ दूर जाने के बाद सड़क पर छोड़ गया था। इसके बाद वह ई-रिक्शा से भैसाली बस अड्डे तक पहुंचा और फिर वह फुटेज में नहीं दिखा।
Sunita murder case Meerut: Police is close to find the murderer, search for Vikas Jatav intensified

सीसीटीवी में देखकर खोला होगा गेट

अब तक की जांच में पुलिस मानकर चल रही है कि कातिल के गेट पर पहुंचने पर सुनीता मिश्रा ऊपर वाले कमरे में होंगी। वहां पर सीसीटीवी लगा था। उन्होंने उसी कमरे से कातिल को देखने के बाद दरवाजा खोला होगा। दरवाजे खोलते ही कातिल ने पत्थर के टुकड़े से सुनीता के सिर पर वार किया।बेहोश होने के बाद राधेश्याम की लाइसेंसी रिवाल्वर लाकर उसको गोली मारकर रिवाल्वर हाथ में रख दी। पुलिस अब इस सवाल का जवाब ढूंढ रही है कि ऐसा कौन परिचित हो सकता है, जो घर में आता-जाता रहता हाे। एसपी सिटी आयुष विक्रम सिंह ने बताया कि राधेश्याम मिश्रा पैतृक गांव से अभी वापस नहीं आए हैं। उनके आने के बाद कई बातें स्पष्ट हो पाएंगी।

About The Author

error: Content is protected !!