June 15, 2024

TNC Live TV

No.1 News Channel Of UP

मेरठ STF ने रिसॉर्ट मालिक को किया गिरफ्तार, एक हजार अभ्यर्थियों को पहले पढ़ाया गया था पेपर

एसटीएफ मेरठ ने यूपी पेपर लीक मामले में गुरुग्राम से रिसॉर्ट मालिक को गिरफ्तार किया। इसी व्यक्ति के रिसॉर्ट में एक हजार से ज्यादा अभ्यर्थियों को परीक्षा से पहले पेपर पढ़वाया गया था। एसटीएफ मेरठ के एएसपी बृजेश कुमार सिंह ने बताया कि नेचर वैली रिजॉर्ट के मालिक सतीश धनकड़ को देर रात मेरठ एसटीएफ की टीम ने गिरफ्तार कर लिया।

वहीं इससे पहले मामले में मेरठ एसटीएफ पांच आरोपियों को गिरफ्तार किया था। इनकी रिमांड भी मंजूर हो गई है। एसटीएफ की मेरठ इकाई के एएसपी बृजेश कुमार सिंह के अनुसार पांच आरोपियों का रिमांड मिला है, उनमें टीसीआई ट्रांसपोर्ट कंपनी के कर्मचारी मिर्जापुर के शिवम गिरि, भदोही निवासी रोहित पांडेय, प्रयागराज निवासी अभिषेक शुक्ला, बिहार निवासी डॉ. शुभम मंडल और मोनू को 10 दिन के लिए रिमांड पर लेने के लिए कोर्ट में अर्जी दी थी। कोर्ट से पांच दिन का रिमांड स्वीकार किया गया है।

 

बताया गया कि पांचों आरोपियों को गाड़ी से सुरक्षा में अहमदाबाद ले जाया जाएगा। किस तरह से पेपर लीक किया गया, इसका क्राइम सीन दोहराने के समय वीडियोग्राफी की जाएगी।

इसके अलावा गुरुग्राम के जिस रिजॉर्ट में एक हजार के करीब अभ्यर्थियों को पेपर लीक कराया गया था, उसका भी निरीक्षण किया जाएगा। बृजेश कुमार सिंह ने बताया कि कंकरखेड़ा थाने में दर्ज रिपोर्ट में जेल गए आरोपियों की संपत्ति भी खंगाली जा रही है। इन सभी के खिलाफ गैंगस्टर की कार्रवाई भी की जाएगी।

आरोपियों का दूसरे राज्यों के लोगों से कनेक्शन भी खंगाला जा रहा है। माना जा रहा है कि आरोपी दूसरे राज्यों में भी पहले कई परीक्षाओं के पेपर लीक करा चुके हैं। एएसपी ने बताया कि सभी आरोपियों के खिलाफ मजबूत साक्ष्य एकत्र किए जा रहे हैं ताकि उन्हें जल्द जमानत न मिल सके।

ये है मामला

उत्तर प्रदेश पुलिस सिपाही भर्ती की दो पाली की परीक्षा का पेपर लीक हो गया था। इस मामले की जांच एसटीएफ को सौंपी गई थी। जांच के बाद खुलासा हुआ कि अहमदाबाद स्थित टीसीआई ट्रांसपोर्ट कंपनी से पांच और आठ मार्च को पेपर लीक हुआ था। एसटीएफ इस मामले में 15 मुकदमे दर्ज कराकर 54 आरोपियों को जेल भेज चुकी है। गिरोह के मुख्य आरोपी रवि अत्री और राजीव नयन मिश्रा अभी फरार चल रहे हैं। शुक्रवार को गुरुग्राम से रिसॉर्ट मालिक को भी गिरफ्तार कर लिया गया।

About The Author

error: Content is protected !!