July 25, 2024

TNC Live TV

No.1 News Channel Of UP

बरेली बवाल: साढ़े नौ घंटे चली कार्रवाई… बुलडोजर छोटे पड़े तो मंगाई गईं पोकलेन मशीनें; जानें कब क्या हुआ

बरेली में पीलीभीत बाइपास के किनारे प्लॉट पर कब्जे को लेकर हुए बवाल के आरोपी प्रॉपर्टी डीलर राजीव राना के मकान, होटल और दफ्तर को ध्वस्त कर दिया गया। बृहस्पतिवार को बीडीए की ओर से साढ़े नौ घंटे कार्रवाई चली। इस दौरान कई बाधाएं भी आईं। कभी बारिश ने खलल डाला तो कभी अवैध निर्माण ढहाने के लिए बुलडोजर छोटे पड़ गए। पोकलेन मशीनों को मंगाकर आरोपी के अवैध निर्माण को ध्वस्त किया गया। इस पूरी कार्रवाई में बीडीए उपाध्यक्ष से लेकर पुलिस के सीओ तक 24 अधिकारी मौजूद रहे, जबकि 200 से अधिक मजदूर काम को अंजाम देते रहे।

bareilly firing case bulldozer run on hotel and house of rajeev rana in Bareilly

राजीव राना के होटल व मकान के पास सुबह बारिश थमने के बाद करीब 9:30 बजे बीडीए का दस्ता पुलिस व पीएसी बल के साथ चार बुलडोजर लेकर पहुंचा। पुलिस ने सबसे पहले वहां सड़क पर लोगों का आवगमन बंद कराया।
bareilly firing case bulldozer run on hotel and house of rajeev rana in Bareilly

पीलीभीत बाइपास रोड व संजयनगर मोड़ पर पुलिसकर्मी तैनात किए गए। आरोपी के होटल व घर के आसपास के इलाके को खाली कराकर पुलिसकर्मी तैनात किए गए।
मकान के अंदर की दीवारों से ध्वस्तीकरण की शुरुआत हुई। मकान के अंदर शटर व दीवारों को तोड़ा गया। पहली मंजिल गिराते ही बुलडोजर की ऊंचाई छोटी पड़ गई और काम रुक गया।
bareilly firing case bulldozer run on hotel and house of rajeev rana in Bareilly
इसके बाद बीडीए ने एक पोकलेन मशीन मंगवाई, जिससे कार्रवाई में तेजी आई। फिर भी रफ्तार मनमाफिक न होने पर बीडीए वीसी के आदेश पर अपराह्न तीन बजे दूसरी पोकलेन मशीन मंगवाकर होटल गिराने का काम भी शुरू किया गया।

About The Author

error: Content is protected !!